ये दौर मोहब्बत का लहू चाट रहा है,
इंसान का इंसान गला काट रहा है।

ye daur mohabbat ka lahoo chaat raha hai,
insaan ka insaan gala kaat raha hai.